Latest For Me

ताइवान पर खामोश नहीं बैठा चीन, आसपास ही मंडरा रहे लड़ाकू विमान और नौसैनिक जहाज

ताइवान-पर-खामोश-नहीं-बैठा-चीन,-आसपास-ही-मंडरा-रहे-लड़ाकू-विमान-और-नौसैनिक-जहाज

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ विदेशताइवान पर खामोश नहीं बैठा चीन, आसपास ही मंडरा रहे लड़ाकू विमान और नौसैनिक जहाज

ताइवान पर खामोश नहीं बैठा चीन, आसपास ही मंडरा रहे लड़ाकू विमान और नौसैनिक जहाज

ताइवान ने रविवार की सुबह कहा कि कुल 10 चीनी सैन्य विमान और चार नौसैनिक जहाजों को उसके क्षेत्रों में पाया गया है। इसके साथ ही ताइवानी क्षेत्र में चीनी युद्धक जहाजों की कुल संख्या 19 तक पहुंच गई है।

ताइवान पर खामोश नहीं बैठा चीन, आसपास ही मंडरा रहे लड़ाकू विमान और नौसैनिक जहाज

Amit Kumarएजेंसियां,ताइपेTue, 24 Jan 2023 05:34 PM

ऐप पर पढ़ें

ताइवान को लेकर चीन शांत नहीं बैठा है। उसकी हालिया गतिविधियां इस ओर इशारा कर रही हैं कि चीन किसी बड़े एक्शन प्लान की तैयारी कर रहा है। ताइवान के राष्ट्रीय रक्षा मंत्रालय (एमएनडी) के अनुसार, सोमवार को ताइवान के क्षेत्र में कम से कम नौ चीनी सैन्य विमानों और चार नौसैनिक जहाजों का पता चला है। ताइवान के राष्ट्रीय रक्षा मंत्रालय ने आधिकारिक बयान साझा कर ट्विटर पर बताया, “पीपल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) के 9 विमान और उसकी नेवी (PLAN) के 5 जहाजों को आज सुबह 6 बजे (UTC+8) ताइवान के आसपास पाया गया। आरओसी सशस्त्र बलों ने स्थिति की निगरानी की है। इन गतिविधियों का जवाब देने के लिए CAP विमान, नौसेना के जहाजों और भूमि आधारित मिसाइल सिस्टम को अलर्ट कर दिया गया है।”

इससे पहले, ताइवान ने रविवार की सुबह कहा कि कुल 10 चीनी सैन्य विमान और चार नौसैनिक जहाजों को उसके क्षेत्रों में पाया गया है। इसके साथ ही ताइवानी क्षेत्र में चीनी युद्धक जहाजों की कुल संख्या 19 तक पहुंच गई है। इसके अलावा, आठ नौसैनिक जहाज भी ताइवानी क्षेत्र में मंडरा रहे हैं। हालांकि ताइवानी रक्षा मंत्रालय ने यह नहीं बताया की चीन के युद्धक विमान किस एरिया में पाए गए हैं। न ही यह पता चल पाया है कि क्या चीनी जहाजों और विमानों ने ताइवान के वायु रक्षा पहचान क्षेत्र (ADIZ) में प्रवेश किया या ताइवान स्ट्रेट की मध्य रेखा को पार किया। मंत्रालय ने कहा कि उसने चीनी सैन्य विमानों को ट्रैक करने के लिए अपने युद्धक विमानों को तैनात किया हुआ है।  

अगस्त 2022 की शुरुआत में चीन ने अपनी सैन्य कार्रवाई तेज कर दी थी जब अमेरिकी व्हाइट हाउस की अध्यक्ष नैन्सी पेलोसी के 2-3 अगस्त, 2022 के बीच ताइवान का दौरा किया था। इसके बाद चीन ने ताइवान के करीब छह स्थानों पर लाइव-फायर अभ्यास किया था। इससे पहले, ताइवान ने 20 जनवरी को बताया था कि 31 चीनी सैन्य विमान और चार जहाज उसके इलाके में पाए गए हैं।  

ब्लिंकन ने ताइवान पर यथास्थिति बदलने के खिलाफ चीन को चेताया

इधर अमेरिका के विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने चीन को एक बार फिर से क्षेत्र में शांति एवं स्थिरता बनाए रखने में अहम ताइवान की यथास्थिति बदलने के खिलाफ चेताया है। ब्लिंकन ने ‘यूनिवर्सिटी ऑफ शिकागो’ में ‘इंस्टीट्यूट ऑफ पॉलिटिक्स’ के संस्थापक निदेशक डेविड एक्सलरोड के साथ संवाद के दौरान कहा कि पिछले कुछ वर्षों में चीन ताइवान पर सैन्य और आर्थिक दबाव बनाने की कोशिश कर रहा है। उन्होंने कहा, ‘‘ताइवान के संबंध में हमने पिछले कुछ साल में देखा है कि चीन ने एक फैसला किया है कि वह उस यथास्थिति को लेकर सहज नहीं है, जो दशकों से बरकरार है, जो हमारे देशों के बीच संबंधों और मुश्किल स्थिति के प्रबंधन के मामले में वास्तव में सफल रही है।’’

ब्लिंकन ने कहा, ‘‘हमने पिछले कुछ वर्षों में उन्हें (चीन को) देखा है… उन्होंने ताइवान पर सैन्य दबाव, आर्थिक दबाव बढ़ाया है, वे दुनियाभर के देशों, अंतरराष्ट्रीय संगठनों से उसके संबंध काटने की कोशिश कर रहे हैं।’’ उन्होंने कहा कि अमेरिका के नजरिये से यथास्थिति कारगर रही है और यह ताइवान जलडमरूमध्य में शांति और स्थिरता बनाए रखने के लिए महत्वपूर्ण है।

Facebook
Twitter
LinkedIn
Pinterest

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top